ALL HEALTH BEAUTY INTERVIEW
मंजिल तो दूर है, अभी तो सिर्फ शुरूआत है : पूनम रावत
September 15, 2020 • Tarun Kumar Nimesh

कहते हैं - खुदी को कर बुलंद इतना की ऊपर वाला भी पूछे बता तेरी रज़ा क्या है - इसी मिसाल को सार्थक सिद्ध करती नजर आ रही है पूनम रावत। जी हाँ! जो अपने आप में आज एक मुकाम बनाये हुए हैं जिन्हें हर कोई देखकर जाना-पहचाना कहता है और 'आपकी सेहत' पत्रिका के संपादक तरूण कुमार से हुई बातचीत के प्रस्तुत है कुछ खास अंश :- 

पूनम रावत जी सबसे पहले आपसे हमारा सवाल है कि आपने अपने कैरियर की शुरूआत कहां से की?

आज सफलता के जिस मुकाम पर हूं उसमें इंसान की सबसे बड़ी अपनी खुद की मेहनत होती है लेकिन मेहनत के साथ-साथ जिंदगी से कुछ लोग जुड़े होते हैं, जिनकी बहुत अहमियत होती है। मेरी लाइफ में मेरे मम्मी-पापा जिन्होंने हमेशा मुझे आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहित किया, हमेशा मेरा साथ दिया मेरे बच्चे जिन्होंने हमेशा मेरा सहयोग किया। मेरी दोस्त रेखा जिसने हमेशा मुझे प्रेरित किया, मेरी बहन जिसने हमेशा मुझे सहयोग किया, बहन से ज्यादा वह मेरी दोस्त है, हर कदम पर वह मेरे साथ है और सुपर पावर गॉड जिनका हाथ हमेशा मेरे सर पर रहा, मेरी मां रूपा मैम विपुल मैम जिन्होंने हमेशा मुझे आगे बढ़ने की सलाह दी, हमेशा मुझे प्रोत्साहित किया, नीमा दीदी मेरी गाइडेंस मेरी प्रोत्साहन सब कुछ हैं वें, उन्होंने मुझे लाइफ में बताया क्या करना है, क्या नहीं करना है। मेहंदी के साथ सोशल वर्क से भी जुड़ी हुई हूं, ब्लड डोनेट करना, वह मीन फॉर सोशल वर्क आदि सभी कामों में उनका सहयोग करती हूँ, कैंपेनिंग करना आदि।

पूनम रावत जी आपकी प्राथमिक शिक्षा कहां से हुई और आपने किस मोड़ पर अपने जीवन का लक्ष्य तय किया?

वैसे तो मैं एक जिम्मेदारी की जॉब पर हूँ लेकिन अगर मिसेज इंडिया पेजेंट यूनिवर्स 2020 में आई, इसकी सबसे पहले शुरूआत हुई करवा क्वीन कॉन्टेस्ट से जिस पर मैंने स्वेगआॅफ क्वीन अवार्ड जीता, फिर टी-शर्ट मॉडलिंग फॉर मलिका अवध ग्रुप आॅफ क्वीन मी ब्रांड एम्बेसडर साउथ यूपी जीता और उसके बाद मेरा अचीवमेंट मिसेज इंडिया यूनिवर्स पैशनोट 2020 जीता।

पूनम रावत जी आपकी सफलता और आज आप जिस मुकाम पर हैं उसने पाने के लिए आपने क्या किया और उसमें मुख्य भूमिका किसकी रही?

मेरी प्रारंभिक शिक्षा लखनऊ में ही रही, और मैं लखनऊ से बिलॉन्ग करती हूं, जीवन के हर मोड़ पर कुछ नया करने का जज्Þबा रहा है, अपने कैरियर के साथ-साथ मॉडलिंग भी मेरा पैशन है, और मैं सेलेक्ट हुई और दा बेस्ट परफॉर्मेंस दिया गया।
पूनम रावत जी आज आप जिस मुकाम पर हैं और आज लोग आपको जानते हैं यह देख कर आपको कैसा महसूस होता है?
आज लाइफ के जिस मुकाम पर हूं, चाहे वह कैरियर हो या फिर मॉडलिंग हो, अच्छा लगता है लोग जानते हैं, पहचानते हैं, खुद के होने का एहसास होता है, खुश हूं - परन्तु इस समाज के लिए और सबसे ज्यादा गरीब बच्चों के लिए कुछ करना चाहती हूं।

पूनम रावत जी आपने आज तक अपने जीवन में जो तय किया और उसको पाने के लिए आपने दिन रात मेहनत की क्या अभी वह सपना अधूरा है?

अपने कैरियर में अपनी मॉडलिंग में मेहनत की है परन्तु जिस मुकाम पर हूं उसमें और ज्यादा आगे बढ़ना चाहती हूं, चाहे वह कैरियर हो चाहे वह मॉडलिंग हो और आगे बढ़ते हुए इस समाज के लिए सोसाइटी के लिए भी कुछ करना चाहती हूं। और रही बात सपने की तो सपना अभी अधूरा है क्योंकि अभी बहुत आगे जाना है और बहुत कुछ करना है अभी तो यह शुरूआत है।

पूनम रावत जी आपको आपके परिवार से सबसे ज्यादा सपोर्ट और सहयोग किनसे मिला?

फैमिली में सबसे ज्यादा सपोर्ट मम्मी-पापा का रहा जिन्होंने हमेशा आगे बढ़ने की ही प्रेरणा दी है और मेरी सिस्टर जो हमेशा मेरे साथ रही उसने मुझे बताया है कि क्या करना है, क्या नहीं करना है और मेरे बच्चे जिन्होंने हमेशा मेरा सपोर्ट किया, मेरे बेटे ने हमेशा मुझे आगे बढ़ने से सलाह दी।

पूनम रावत जी आपकी संस्था द्वारा बहुत सारे कार्यक्रमों को आयोजित किया गया है कोई एक ऐसा जिसे आप हमेशा याद रखेंगे?

अभी तक मैं स्वैग आॅफ क्वीन बनी, उसके बाद टी-शर्ट मॉडल बनी, उसके बाद ब्रांड एंबेसडर  साउथ यूपी बनी, उसके बाद टी-शर्ट मॉडल बेस्ट मॉडल आॅफ द ईयर का अवार्ड जीता, अवध रत्न का अवार्ड जीता और ब्रांड मिस्टर साउथ यूपी बनी और उसके बाद मिसेज इंडिया पसीने यूनिवर्स 2020 हासिल किया। 


पूनम रावत जी आपके जीवन के रोल मॉडल कौन है तथा आप किस फिल्म स्टार की तरह बनना चाहती हैं?

मेरी लाइफ में मेरी रोल मॉडल मेरी मॉम है और मैं किसी फिल्म स्टार की तरह नहीं मैं अपनी पहचान खुद बनाना चाहती हूं, मैं खुद किसी के लिए एक फिल्म स्टार बनना चाहती हूं।


अभी तक मैंने बहुत सारे वर्क किए चाहे कैरियर में हो, चाहे मॉडलिंग में हो, लेकिन सबसे पहले मैं गरीब बच्चों को पढ़ाती थी, एजुकेशन देती थी, वो मेरी वह मेरी लाइफ का एक बेस्ट पार्ट है और मैं इस समय बहुत बिजी हूं, लेकिन फिर भी मैं टाइम निकाल कर उनको एजुकेट करती हूं, वह मेरी लाइफ का सबसे अच्छा एक्सपीरियंस है कि जब आप बच्चों को एजुकेट करते हो पढ़ाते हो तो आपको नई-नई एक्सपीरियंस का अनुभव होता है।

पूनम रावत जी आप आने वाली पीढ़ी को कोई ऐसा संदेश देना चाहेंगी जिनसे वह प्रेरित हो सके।

अपने आने वाली पीढ़ी को संदेश देना चाहती हूं कि अपनी कड़ी मेहनत और अपने पेरेंट्स का साथ हमेशा आपको आगे बढ़ने की प्रेरणा देता है और जीवन में कठिनाइयां बहुत आती हैं, लेकिन उसको स्ट्रांग बनकर, फेस करना चाहिए और अपना द बेस्ट करना चाहिए। कभी किसी चीज से हारना नहीं चाहिए और हमेशा आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहित होना चाहिए, किसी भी वजह से मायूस नहीं होनी चाहिए और एक जज्बा होना चाहिए कि हमें यह करना है। आपके पैरेंट्स का साथ आपको वह उस मुकाम पर ले जाएगा जहां कि आपने कल्पना की होगी।