ALL HEALTH BEAUTY INTERVIEW
हंसमुख पार्टनर हर लड़की की पसंद
February 26, 2019 • Tarun Kumar Nimesh

हंसमुख रहना और अपने आसपास मौजूद लोगों को भी प्रसन्नता में डुबोए रखना एक कला है। यह सबमें नहीं होती, लेकिन जिसमें होती है वह सबका मन जीत लेता है। जीवनसाथी के रूप में भी ऐसे पुरुषों को महिलाएं प्राथमिकता देती हैं। गुमसुम, उदास खुद में गुम रहने वाले पुरुष कम ही महिलाओं को पसंद आते हैं।

बिलकुल सही है... रौनक की जिस बात ने मुझे सबसे पहले अट्रैक्ट किया था वो थी उनका मजाकिया स्वभाव। कहती हैं परिधि। वे कहती हैं- श्हमारी पहली मुलाकात मेरी कजिन की शादी में हुई थी। वहां रौनक साहब दादी से लेकर मेरी दीदी तक का दिल अपने हंसमुख स्वभाव के कारण जीत चुके थे। पूरे समय लोग उनको घेरे रहते थे, जैसे वो कोई सेलिब्रिटी हों।

केवल हंसी-मजाक ही नहीं, शादी में एक बार जब किसी बात को लेकर माहौल थोड़ा तनावपूर्ण बना तो रौनक ने मध्यस्थ की भूमिका निभाते हुए इस तरह बात को संभाला कि सारा तनाव हवा हो गया। उनकी इसी क्वॉलिटी के कारण मैंने उनको पति के रूप में चुना।श् बात एकदम सही है जो लोग खुश रहना और हंसना-हंसाना जानते हैं, वे अक्सर समस्याओं से लड़ने के मामले में भी बेहद सकारात्मक रुख अपनाते हैं।

इसलिए उनसे जुड़ने वाले लोगों को उनके साथ रहकर बल-सा मिलता है और यही कारण है कि पति के रूप में अधिकांश महिलाओं को ऐसे पुरुष पसंद आते हैं, जिनका सेंस ऑफ ह्यूमर अच्छा हो, क्योंकि ऐसे लोग समस्याओं का सामना करते समय भी अपना आपा नहीं खोते।


यही नहीं, वे लोगों की भावनाओं की कद्र करना भी जानते हैं। उन्हें मालूम होता है कि उनका परिहास किस तरह लोगों को कुछ देर का तनावमुक्त माहौल दे सकता है।


इंजीनियरिंग की छात्रा वंशिका भी इस बात से सहमति दर्शाती हैं। वे कहती हैं-ष्मेरे पापा इसी तरह के हैं और मुझे लगता है कि उनके स्वभाव के कारण ही हमें कभी भी एक्जाम देने जाते समय डर नहीं लगा। एक्जाम देने जाते समय भी वे इतना सहज और हंसी वाला माहौल क्रिएट कर देते हैं कि मैं अपनी सारी नर्वसनेस भूल जाती हूं। उनका सेंस ऑफ ह्यूमर गजब का है।


कुल मिलाकर हर उम्र, हर वर्ग, हर प्रोफेशन की लड़कियों को लगता है कि उनके पार्टनर में सेंस ऑफ ह्यूमर का होना नितांत जरूरी है, इससे जीवन की राह आसान हो जाती है।