ALL HEALTH BEAUTY INTERVIEW
सोने के दाम से निराश महिलाआें को भाए हीरे
February 26, 2019 • Tanya Nimesh

भारतीय महिलाएं सोने के गहने खरीदने के लिए मौके का इंतजार नहीं करतीं। मगर पिछले कुछ समय में सोने की बढ़ती कीमतों ने खरीदारों को निराश किया हैं। इसी वजह से महिलाओं को रुझान सोने से हटकर हीरे और प्लैटिनम यहां तक कि चांदी की तरफ भी बढ़ा है। युवतियां हीरे जडिघ्त गहने या प्लैटिनम के जेवर खरीदने में खासी दिलचस्पी दिखा रही हैं। हीरे की चमक हर किसी को अपनी तरफ आकर्षित करती है। ऐसे में यह युवतियों की पहली पसंद बनती जा रही है।


इस बात में कोई संदेह नहीं कि भारतीय संस्कृति में सोने का बहुत महत्व है। बच्चे के जन्म से लेकर शादी-ब्याह तक में सोने के गहनों का खासा महत्व है। मगर पिछले कुछ सालों में यह ट्रैंड बदला है। हल्के गहने खासकर हीरे और प्लैटिनम महिलाओं की पसंद के रूप में उभरे हैं। पर ज्यादातर महिलाएं आज भी सोने के गहने ज्यादा पसंद करती हैं। कई युवतियां आज भी सोने के पारंपरिक गहने ज्यादा पसंद करती हैं क्योंकि उनका मानना है कि पारंपरिक गहने कभी भी फैशन से बाहर नहीं होते और उनका महत्व सदैव बना रहता है।


कई जूलरी शोरूम की ओर से लगाई जाने वाली स्वर्ण आभूषणों की प्रदर्शनी में भी अब भारी-भरकम गहने नहीं दिखाई देते। प्रदर्शनी में लगने वाले गहने स्टाइलिश और आम गहनों से बिल्कुल अलग होते हैं। इन प्रदर्शनियों में डायमंड की अंगूठी, ब्रेसलेट, बाली और अलग तरह के डायमंड सेट होते हैं। ऐसी प्रदर्शनी में हर तरह के गहने देखे और खरीदे जा सकते हैं।


अगर आप ऐसे गहने तलाश रही हैं, जो कभी फैशन से बाहर नहीं होते तो स्टोन जडिघ्त गहने आपकी शोभा बढ़ा सकते हैं। आप किसी भी जगह, किसी भी मौके पर इसे पहन सकती हैं। मगर इन सब गहनों के बीच सोने और प्लैटिनम के गहनों की अपनी अलग पहचान है। हालांकि आज की आधुनिक युवतियों की पहली पसंद डायमंड जडिघ्त गहने होते हैं इसलिए सोने के गहनों को कड़ी प्रतियोगिता से गुजरना पड़ रहा है। निवेश के नजरिए से देखा जाए तो सोने के सिक्के और श्गोल्ड बारश् में लोग पहले निवेश करते हैं। सोने के गहनों में निवेश कम होता है क्योंकि इसे बेचते समय इसके दाम कम मिलते हैं।