ALL HEALTH BEAUTY INTERVIEW
संस्कृति को दशार्ता एक फैशन शो
November 29, 2018 • Tarun Kumar Nimesh

संस्कृति को दशार्ता एक फैशन शो

फैशन को सर्वाधिक आयाम देने वाला हिस्सा पहनावे का है। फैशन को नित नए प्रयोगों द्वारा आकर्षक बना प्रभावित करने का एक उद्योग चल रहा है। फैशन को जनता तक पहुंचाने हेतु ये उद्यमी शो आयोजित करते हैं और मीडिया के माध्यम से प्रचार प्रसार देते हैं। आजकल देश का हर कोना फैशन शो के बारे में जानने सुनने लगा है। यहाँ तक कि डिजाइनर इन आयोजनों में बढ़ चढ़कर हिस्सा भी लेने लगे हैं। भारत में रोज नए फैशन कार्यक्रमों की आहट सुनायी देने लगी है। ऐसा कहना अतिशयोक्ति नहीं होगी कि फैशन शो के बिना फैशन इंडस्ट्री को कल्पना करना मुश्किल है। आज की तारीख में पूरी दुनिया फैशन की दीवानी है।

फैशन में होने वाले परिवर्तन ने उद्योग जगत से लेकर इसके शौकीनों के सामने एक चुनौती उत्पन्न की है। परिवर्तन के साथ ग्राह्यता और स्वीकार्यता की चुनौती बढती जा रही है। यह बहुत ही गतिशील होता है और पलक झपकते ही अपना रंग बदल लेता है। फैशन जगत में उभरते डिजाइनरों के लिए यह और मुश्किल है। इसी मुश्किल को आसान बनाने का काम कर रहे हैं फैशन शो। फैशन शो नए डिजाइनरों के लिए प्लेटफोर्म तलाशने का काम करते हैं जहाँ वे अपने डिजाइन लोगों के सामने पेश कर सकें और उन्हें मान्यता दिला सकें।

फैशन को प्रशिक्षण देने एवं नए प्रयोगों को व्यवस्थित ढंग से नई पीढ़ी तक पहुंचाने हेतु देश में सैकड़ों संस्थान नई प्रतिभाओं को तराश रहे हैं। दिल्ली के तत्यम स्कूल ऑफ डिजाईन की निदेशक रजनी के अनुसार ष्देश में युवाओं का एक बड़ा वर्ग फैशन को अपना करियर बनाना चाहता है। यह एक अच्छा संकेत है। भारत के कपडे भारत ही नहीं, विदेशों में भी पसंद किये जाते हैं इसलिए फैशन जगत में अपार संभावनाएं हैं। आवश्यकता है कि युवा प्रोफेशनल ट्रेनिंग लें और अपने हुनर को नई ऊँचाई दें। हाँ शुरूआती दिनों में कुछ कठिनाइयाँ जरुर आती हैं पर ये कठिनाइयाँ प्रत्येक फिल्ड में आती हैं।

देश में डिजाइनरों ने काफी अच्छा काम किया है। इन्होंने ना सिर्फ अपने डिजाईन से लोगों का दिल जीता है बल्कि भारतीय पारंपरिक पहनावे को एक नई उंचाई देने का काम भी किया है। भारतीय पारंपरिक फैशन को प्रोत्साहन देने वाले गोटा पट्टी के काम के लिए मशहूर डिजाइनर तनय पारीक आगामी दिसंबर माह में दिल्ली में अपने डिजाईन शो करने जा रहे हैं। तनय का मानना है कि ष्भारत विश्व का दार्शनिक एवं सांस्कृतिक गुरु रहा है। भारत की एक सांस्कृतिक विरासत है जिसने पूरी दुनिया को आकर्षित किया है। ऐसे में हम दूसरे देश की संस्कृति पहनावे के माध्यम से अपने देश में प्रसारित करने की जगह अपनी संस्कृति को पूरी दुनिया में प्रसारित करें। मैं अपने डिजाईन में हमेशा वही खुशबु रखने की कोशिश करता हूँ जिसने हजारों सदैव दुनिया को लुभाया है। इसमें नयापन है, भावनात्मक अपील भी और सबसे बढ़कर गर्व का एहसास है।

सिनेमा ने फैशन को हमेशा से प्रभावित किया है और एक नई दृष्टि दी है। मुंबई की डिजाइनर सौम्या शर्मा प्लस साइज के डिजाईन पर काम कर रही हैं और अपना डिजाईन फैशन शो में प्रदर्शित करती रहती हैं। इनका आगामी शो दिल्ली में होने जा रहा है। सौम्या सिनेमा जगत को कुछ ड्रेस का एक नया आयाम देना चाहती हैं। ष्ऐसा नहीं कि केवल स्लिम लोगों पे ही ड्रेस अच्छे लगते हैं। ड्रेस की डिजाईन अगर अच्छी हो तो हेल्दी लोगों को भी आकर्षक लुक दिया जा सकता है और अगर डिजाईन खराब हो तो स्लिम लोग भी बदरंग दिखने लगते हैं। हम पहले ही मान लेते हैं कि अमुक ड्रेस अमुक पर अच्छा लगेगा। हमें अपनी इस भ्रान्ति को तोड़ने की जरुरत है और प्रयोग करने की जरुरत है। मैंने इस एरिया में काफी विमर्श किया और पाया कि प्लस साइज के लिए किसी ने ध्यान नहीं दिया है। अच्छे कपडे पहनने से आत्मविश्वास बढ़ता है क्योंकि इससे इंसान की सोच पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है। 

इन प्रतिभाओं को प्लेटफार्म देने हेतु समय समय पर फैशन शो का आयोजन होता रहता है। आगामी १-२ दिसंबर को दिल्ली में कोत्योर रनवे वीक का आयोजन होने जा रहा है। शो डायरेक्टर आरती तिवारी का मानना है कि ष्इस शो में ज्यादातर नई प्रतिभाओं को अवसर देने का प्रयास किया जा रहा है। शो में देश के हर कोने से आ रहे डिजाइनरों ने अच्छा कलेक्शन तैयार किया है जो कि फैशन जगत को कुछ नया देगा।ष

मानव की भौतिक उपस्थिति के अन्य पहलुओं की तरह वस्त्रों का हमारे जीवन में बहुत महत्व है। वस्त्रों का व मानव की भौतिक उपस्थिति के अन्य पहलुओं की तरह वस्त्रों का हमारे जीवन में बहुत महत्व है। वस्त्रों का व्यक्ति के व्यक्तित्व बनाने में अहम भूमिका होती है। फैशन जगत नित नए मुकाम हासिल कर रहा है और नए लोगों को व्यवसाय के अवसर प्रदान कर रहा है। बस थोड़ा सा ध्यान देने की जरुरत है की पहनावा आकर्षित कर सकता है पर व्यक्तित्व आकर्षण को स्थाईत्व दे सकता है।

कोत्योर रनवे वीक का आयोजन

आगामी 1-2 दिसंबर को दिल्ली में कोत्योर रनवे वीक का आयोजन होने जा रहा है. इस शो के माध्यम से कैंसर के प्रति जागरूकता फैलाने का प्रयास किया जा रहा है. इस शो का आयोजन द्वारका सेक्टर १० के आई टी सी वेलकम होटल में हो रहा है. यह आयोजन अभिमंच, ग्लोबल फैशन फेडेरशन एवं वी एल मीडिया सोलुशंस द्वारा संयुक्त रूप से किया जा रहा है।