नींद लाने के सरल उपाय
August 28, 2019 • भूपेन्द्र कुमार

जिन्हें नींद न आने की शिकायत रहती है, उन के मन से ऐसे निराशाजनक विचार निकल जाने चाहिएं। तभी नींद लाने के उपाय भी कारगर सिद्ध होंगे।

  • छह से सात घंटे की प्रतिदिन नींद पर्याप्त रहती है।
  • आधी रात से पूर्व की दो घंटों की नींद, आधी रात के बाद के चार घंटों की नींद के समान समझें।
  • रात साढ़े नौ बजे तक सो जाना एक अच्छी आदत है।
  • अच्छी नींद सोना है तो रात हल्का भोजन करें।
  • सोने से तीन घंटे पूर्व भोजन कर लेना अच्छी बात है।
  • भोजन के बाद तथा सोने से पूर्व 100-200 गज जरूर चलें जिससे भोजन पच जाए।
  • सोने से पूर्व प्राकृतिक क्रियाएं निपटा लें ताकि रात को न उठना पड़े।
  • सोने के समय चिंतामुक्त रहें। मन में कोई फिक्र लेकर बिस्तर पर मत जाएं। चिंता सोने नहीं देगी।
  • आप का कमरा तथा बिस्तर साफ हो। खिड़कियां खुली रखें। तेज रोशनी तथा शोर अपनेे शयन कक्ष में मत आने दें। इस के लिए सचेत रहें।

  • रात सोने से पूर्व कोई अश्लील साहित्य मत पढ़ें।
  • टी वी पर घटिया, उत्तेजक, भयानक सीरियल न देखें।
  • सोते समय मन तथा भावनाओं को शुद्ध रखें।
  • भयमुक्त रह कर सोना ही अच्छी नींद लाता है।
  • सोने से पूर्व हाथ, पांव, मुंह दांत, साफ कर लिया करें।
  • पांव के तलवों पर तेल की मालिश करना अच्छा रहेगा।
  • यदि नींद न आने की शिकायत बनी रहती है तो गर्म पानी में नमक डालकर पांव तथा पिंडलियां भिगोकर रखें। फिर हल्की मालिश करें। थकान नहीं रहेगी।
  • रात को सोने का समय कम मिले तो कुछ कमी दिन में सो कर पूरी करें। गांधी जी ऐसा ही करते थे। चैबीस घंटों में 6 से 7 घंटे तो सोना ही है।
  • नेपोलियन बोनापार्ट घोड़े की पीठ पर सवारी करते करते नींद ले लेते थे। नींद की कमी पूरी कर लेते थे। अपने अपने कार्यक्षेत्रा को ध्यान में रख नींद पूरी कर लें।
  • नींद न आने या नींद न लेने का सीधा प्रभाव हमारे स्वास्थ्य पर पड़ता है। इन साधारण उपायों को अपना कर अपनी नींद पूरी करने का प्रयास करें।