ALL HEALTH BEAUTY INTERVIEW
गंजेपन की बढ़ती समस्या
September 11, 2018 • Tarun Kumar Nimesh

शिवदेव शर्मा
पहले लोगों के सिर के बाल एक उम्र के बाद यानी तीस या चालीस वर्ष के बाद ही गिरने या उड़ने लगते थे किंतु आजकल की भागमभाग जिंदगी में तो स्कूल-काॅलेज जाने वाले बालकों के बाल गिरने भी शुरू हो गये हैं।
सिर के बाल झड़ने-गिरने के कई कारण हैं। उड़े हुये बालों को दोबारा उगाने का अभी तक पूर्णता सफल नुस्खा या इलाज ईजाद नहीं हो पाया है परन्तु फिर भी इसी प्रकार के कई शोधों में कामयाबी हासिल हुई है जिससे उड़े हुये बालों को प्राकृतिक रूप से फिर से उगाने में कुछ हद तक सफलता प्राप्त होने लगी है।
उड़े बालों को आप चाहें तो विग लगाकर या फिर एक दो घण्टे में ‘हेयर वीविंग‘ तथा ‘हेयर बांडिंग‘ के जरिये दुबारा वापस पा सकते हैं किंतु यह स्थाई उपचार नहीं है। बालों का प्रत्यारोपण भी होने लगा है जिससे फिर से बालों को कुदरती रूप से उगाया जाने लगा है। यह प्रक्रिया जटिल होने के साथ-साथ महंगी भी है इसी कारण निम्न एवं मध्यम वर्ग की पहुंच से बाहर है।
बालों के झड़ने के कई कारण हंै जैसे पुश्तैनी गंजापन, बालों के लिये जरूरी विटामिनों की कमी, अनिद्रा, खाये जाने वालों विटामिनों की कमी, सिर की कोई बीमारी होना, बालों की देखभाल में लापरवाही बरतना, धूप, गंदे पानी या खारे पानी आदि से बालों की रक्षा न करना जैसे कई कारण बाल उड़ने के लिये जिम्मेदार होते हैं।
हमें किसी अच्छे हेयर स्पेशलिस्ट से इस समस्या के बारे में सलाह लेनी चाहिए तथा कारण जानने के बाद डाॅक्टर या विशेषज्ञ के बताये गये निर्देशों का पालन करना चाहिए। साधारणतः जिनको आज बालों से संबधित कोई समस्या नहीं है, उन्हें भी बालों के बारे में लापरवाही नहीं बरतनी चाहिये। खाने में हरी सब्जियाॅं तथा फल, आंवला आदि लेना चाहिए।
बालों पर सप्ताह में कम से कम दो बार अच्छा सा तेल लगाकर हल्के हाथ से कुछ देर तक मालिश करनी चाहिए। दिन में कम से कम चार पंाच बार अच्छी तरह कंघी करनी चाहिये। इससे सिर की चमड़ी की एक्सरसाइज होती है तथा रक्त प्रवाह ठीक बना रहता है जिससे बालों की जड़ों को आवश्यक पोषण मिलता है।
बालों को हमेशा बाल धोने वाले शिकाकाई साबुन या हानिकारक कैमिकल या रसायनों रहित शैंपू आदि से ही धोना चाहिए। नींद पूरी लेनी चाहिये तथा चिंता, अत्यधिक मानसिक श्रम से भी बचना चाहिये जिससे दिमाग या सिर पर अत्यधिक जोर न पड़े। रोजाना शीर्ष आसन या ऐसे ही सिर-दिमाग के लिए किये जाने वाले योग आसनों को किसी विशेषज्ञ की सहायता से पूरी जानकारी लेने के पश्चात आरंभ करना चाहिये।
अगर हम उपरोक्त नियमों का पालन करें तो निश्चित तौर पर बालों की समस्याओं से बहुत हद तक निजात पा सकते हैं।