ALL HEALTH BEAUTY INTERVIEW
ऐसे रखें दांतों का ख्याल
January 27, 2019 • Nirbhay Nimesh

यूं तो दांत साफ रखने के लिए किसी बहाने की जरूरत नहीं होती, फिर भी जिन लोगों को ऐसा करने में आलस आता है उनको यह जानकर बेहद आश्चर्य होगा कि दांतों की स्वच्छता का सीधा रिश्ता हृदय रोगों से होता है। हाल ही में हुए एक अध्ययन के अनुसार जो लोग अक्सर अपने दांतों को साफ नहीं रखते, उन्हें दिल संबंधी अनेक बीमारियां होने की 70 फीसदी से भी अधिक संभावना होती है। इसलिए अधिकांश दंत रोग विशेषज्ञों की यह सलाह है कि प्रतिदिन दांतों की सफाई पर विशेष ध्यान दें। तभी अपने अनमोल दांतों को भली-भांति बचाया जा सकता है। दूसरे शब्दों में हम कह सकते हैं कि चमकते खूबसूरत दांत न केवल हमारे चेहरे की शोभा बढ़ाते हैं अपितु इन पर संपूर्ण शरीर का जिम्मा भी टिका होता है। ध्यान रखें कि यदि दांत सही तरह से काम नहीं करते तो भोजन सही ढंग से नहीं पचता है। वही दूसरी तरफ यह भी सोलह आना सच है कि भोजन ठीक नहीं हो तो दांत स्वस्थ नहीं रहते। यही एकमात्र वजह है कि विशेषज्ञों ने खान-पान की खराब आदतों और दांतों के बीच एक खास रिश्ता बताया है। उनका मानना है कि दांतों में कीड़ा लगना ज्यादातर अधिक मीठा सेवन करने तथा दांतों की उचित सफाई नहीं करने के कारण होता है। यही नहीं, अत्यधिक मात्रा में कोल्ड ड्रिंक्स के पीने से भी दांतों का रंग पीला पड़ जाता है और वे अपनी वास्तविक चमक खो बैठते हैं जबकि कई लोग दांतों में दर्द की शिकायत होने पर घर के निकट मौजूद किसी केमिस्ट की दुकान से दवा मांग कर खाने में जरा भी गुरेज नहीं करते जो सरासर गलत होता है।

दांतों के दर्द की बीमारी काफी तकलीफ होती है और इसे किसी भी लिहाज से नजरअंदाज नहीं किया जा सकता, सो दांतों की कोई भी परेशानी दिखाई देने पर केमिस्ट की बजाय अच्छे डेंंिटस्ट की सलाह लेना कतई नहीं भूलें। अपने दांतों का समय-समय पर चेक-अप कराते रहें। निस्संदेह इस तरह दांतों का ख्याल तो रखा ही जायेगा बल्कि दांतों की उचित सफाई भी होती रहेगी। यहां स्मरण रखें कि जब आप डाॅक्टर के पास जाते हैं तो उन्हें आपकी आदतें क्या-क्या हैं? ब्रशिंग करने का तरीका क्या है? और खाने की आदतों अथवा टाइम के विषय में विस्तृत तरीके से पता होना चाहिए। तभी वह आपका सही मार्गदर्शन करते हुए असहनीय दर्द से छुटकारा दिला सकते हैं। डाॅक्टर्स से कुछ नहीं छिपाये तो अच्छा होगा। यहां यह भी बता दें कि दंत मंजन के मुकाबले टूथपेस्ट कहीं अच्छा विकल्प होता है क्योंकि इसमें फ्लोराइड मिला होता है और यह दांतों को सड़न से बचाने में कहीं ज्यादा कारगर है। यह बताने की भी जरूरत नहीं है कि दांतों की अच्छी तरह सफाई करने के लिए पेस्ट के साथ सही ब्रश का होना भी बेहद आवश्यक है। इसके लिए टाइम पर ब्रश को निरंतर बदलते रहें व कठोर ब्रश का नहीं प्रयोग करें। इस प्रकार आप देखेंगे कि इससे दांतों में चमक आ जाएगी और वे पूर्णतया स्वस्थ भी रहेंगे।

इसके अतिरिक्त सदैव दांतों की रोजाना सफाई करें, दिन में दो बार सुबह और शाम ब्रश जरूर करें। मीठा खाने के बाद कुल्ला करें। खाना खाने के उपरांत ब्रश नहीं कर पाएं तो कोई बात नहीं, कुल्ला अवंश्य करें। दांतों का चेकअप कराना बिलकुल नहीं भूलें। लगातार धूम्रपान करने से भी परहेज करें इन बातों पर जीवनचर्या में विशेष ध्यान केन्द्रित करते हैं तो यकीकन दांतों को स्वस्थ रखा जा सकता है।