ALL HEALTH BEAUTY INTERVIEW
उत्तम स्वास्थ्य हेतु खाएं फल एवं सब्जियां
January 19, 2019 • Prajadutt Dabral

शरीर को स्वस्थ बनाए रखने के लिए रोजाना आहार में फल व सब्जियों का उपयोग करना नितांत आवश्यक होता है क्योंकि इनसे हमें विभिन्न महत्त्वपूर्ण पौष्टिक तत्व प्राप्त होते हैं। जो शरीर के सही संचालन और रोगों से मुक्ति दिलाने में मदद करते हैं।

विशेषज्ञों की राय में जो फल एवं सब्जियां जितनी अधिक चटक रंग की होती हैं, वे उतनी ही अधिक पौष्टिक होती हैं इसलिए दैनिक आहार में फल एवं सब्जियों को जरूर इस्तेमाल किया जाना चाहिए ताकि स्वास्थ्य उत्तम बना रहे और शरीर में उम्ररोधी प्रभाव भी कायम रहे। फल और सब्जियों से प्राप्त होने वाले सर्वोत्तम स्रोत कौन से हैं आइये जानें:-

विटामिन ‘ए’:- फल और सब्जियां विटामिन ’ए‘ का श्रेष्ठतम स्रोत होती हैं जो हमें अनेक प्रकार के रोगों से मुक्त रखती हंै। विटामिन ’ए‘ नामक पौष्टिक तत्व हमारी अनमोल आंखों के लिए रामबाण है क्योंकि इसके अभाव में रतौंधी रोग हो सकता है जिससे व्यक्ति की रंगीन दुनियां काली और बेरंगी पड़ जाती हंै। इसीलिए जहां तक संभव हो सके, रोज 50 ग्राम हरी पत्तेदार सब्जियों को अपने तथा बच्चों के भोजन में अवश्य शामिल करें। इसके लिए आप बाजार में मौजूद गाजर, पीला कद्दू और पपीता आदि फलों को आहार के रूप में जगह दे सकते हैं।

विटामिन ‘सी’:- दरअसल, विटामिन ’सी‘ का मुख्य काम शरीर में घावों को जल्द से जल्द भरना होता है। इसके लिए खट्टे सभी फल विटामिन ’सी‘ रूपी तत्वों का पर्याप्त भण्डार होता है। फिर भी, आप आंवला, नींबू, अमरूद, संतरा, तथा अंगूर को खाने में विशेष स्थान देकर इस कमी को पूरा कर सकते हैं। इसके अलावा, कच्चे फलों का सेवन सलाद के रूप में करना कहीं बेहतर सिद्ध होगा जबकि हरा धनिया, पालक, मेथी इत्यादि भी विटामिन ’सी‘ के अच्छे स्रोत हैं जो अक्सर हमें किसी न किसी बीमारी से बचाए रखते हैं।

आयरन (लौह तत्व):- सर्दियों में मौजूद हरी सब्जियों में औषधीय गुणों की भरमार होने के कारण इससे शरीर मंे ंप्रचुर मात्रा में आयरन भी मिलता है जिससे लौह तत्व की आवश्यकताएं सम्पूर्ण हो जाती हैं। जैसा कि ज्ञात होगा कि इस पौष्टिक तत्व की कमी से ’अनीमिया‘ जैसी घातक बीमारी हो जाती है जो प्रायः गर्भवती महिलाओं एवं बच्चों को अपना शिकार बनाती है। अतः इससे बचने के लिए सब्जियों का महत्त्व व्यक्तियों हेतु और अधिक बढ़ जाता है।

रेशा:- फल और सब्जियों में पौष्टिक तत्वों के अंदर रेशा भी काफी अधिक मात्रा में पाया जाता है। यह व्यक्ति के शरीर में मौजूद कब्ज को खत्म करता है तथा हृदयाघात, कैंसर जैसे खतरनाक रोगों से दूर रखता है। इस तरह देखा जाए तो रेशा भोजन के रूप में व्यक्ति के शरीर हेतु बहुमूल्य होता है। यही नहीं, यह भोजन को अच्छी तरह पचाने में भी काफी सहायता करता है। फलस्वरूप व्यक्ति का स्वास्थ्य हमेशा उत्तम बना रहता है।

पोटेशियम:- यूं तो पोटेशियम मुख्यतः हमारे शरीर की कोशिकाओं के भीतर पाया जाता है परन्तु हरी पत्तेदार सब्जियों एवं फलों द्वारा भी यह उपलब्ध कराया जा सकता है जो हमारी कोशिकाओं में जल की मात्रा को संतुलित करने में अहम् भूमिका निभाता है। सो, कोशिश करें कि दैनिक भोजन में ज्यादातर फल और सब्जियों का ही इस्तेमाल हो। तभी आपका स्वास्थ्य उत्तम बना रह सकेगा अन्यथा बीमारियों का शिकार होने से कोई नहीं रोक सकता।

निस्संदेह, यदि आप इस तरह रोजाना अपने भोजन में पर्याप्त मात्रा में हरी सब्जियों एवं फलों को मौसम अनुरूप तवज्जों देते हैं तो यह यकीनन आपके उत्तम स्वास्थ्य हेतु काफी है और आप सदैव निरोगी बने रहेंगे।