ALL HEALTH BEAUTY INTERVIEW
आॅफिस या कॉलेज जाने से पहले मेकअप
February 3, 2019 • Bhupender Kumar

कामकाजी महिलाएं हों या काॅलेज गर्ल, सजना आजकल सबकी जरूरत है मगर बदलते मौसम, भीड़-भाड़, और बसों की धक्का-मुक्की में यह सब इतना आसान नहीं रहा। और तो और, प्रदूषण के कारण त्वचा को सबसे ज्यादा नुकसान पहुंचता है। ऐसे में कैसे भी सज कर बाहर नहीं निकला जा सकता।

सबसे ज्यादा त्वचा को नुकसान पहुंचाता है तनाव जो रोजमर्रा की जिन्दगी से अलग नहीं किया जा सकता। इसलिए कहीं भी मेकअप करके निकलने से पूर्व त्वचा की साफ-सफाई पर ध्यान देना ज्यादा जरूरी है। आखिर त्वचा ही तो हमें सुन्दर दिखाती है।

रोज-रोज ब्यूटी-पार्लर के भी चक्कर नहीं लगाये जा सकते। पार्लरों में भी विशेष अवसर पर ही मेकअप कराये जाते हैं। सो अपनी त्वचा को निखारने और मेकअप करने के रूटीन टिप्स तो आप अपना ही सकती हैं।

त्वचा की सफाई-मेकअप से पूर्व त्वचा की सफाई जरूरी है तभी तो त्वचा दमकेगी। वैसे भी आजकल धूल-मिट्टी ही नहीं, तरह-तरह के प्रदूषक वायुमण्डल में फैले हैं। तैलीय त्वचा को एस्ट्रिंजेंट और रूखी त्वचा को क्लींजिंग मिल्क से साफ करें, तभी चेहरे पर कोमलता की आभा आएगी। तैलीय त्वचा को स्किन टाॅनिक और शुष्क त्वचा को माॅइश्चराइजर से भरपूर पोषण दें। इससे चेहरे और हाथ-पैरों की त्वचा की कमनीयता बनी रहती है। त्वचा को धूप, गरमी आदि से बचाने के लिए सनस्क्रीन लोशन का प्रयोग करेें। दफ्तर या काॅलेज से घर पहुंचने पर चेहरे को पहले साफ पानी से धोएं, फिर मेकअप उतारें।

मेकअप-दफ्तर या काॅलेज में भड़कीला मेकअप नहीं जंचता, इसलिए मेकअप में हल्के रंगों का चुनाव करें। अपनी त्वचा के रंग के अनुसार बेस या फाउंडेशन के रंग का चुनाव करें। मेकअप में काॅम्पेक्ट, आईलाइनर, आइशैडो, काॅजल, लिपस्टिक और हका-सा ब्लश आॅन ही लगाएं। काॅलेज गर्ल के लिए बेस काॅम्पेक्ट ही काफी है।

बेस के रंग के साथ ही ब्लश आॅन के रंग का चुनाव किया जाना चाहिए। खासकर इनके रंगों के लिए त्वचा के रंग का ख्याल रखें। गोरी त्वचा पर हल्का गुलाबी ब्लशआॅन जंचता है। ब्लश आॅन दोनों पाउडर और क्रीम बेस में मिलते हैं। कम मात्रा में लगाकर उसे त्वचा पर एकसार करें। गालों से लेकर कनपटी तक इसे फैलायें, तभी सुन्दर लगेगा।

आंखों का मेकअप-दिन के समय आई शैडो न लगाकर केवल आई लाइनर ही लगाएं। वाटरप्रूफ लाइनर ही प्रयोग करें अन्यथा लाइनर बहकर आपका सारा मेकअप खराब कर सकते हैं। भूरे रंग का इस्तेमाल आपको साधारण रखेगा मगर आकर्षक भी बनायेगा। काजल भी लगा सकती हैं। पीकाॅक या हरे रंग इसमें काफी प्रचलन में हैं।

मस्कारा आंखों की बरौनियों को कर्ल करने के लिए प्रयोग किया जाने लगा है। घर पर ही मस्कारा प्रयोग कर अपनी बरौनियों को आकर्षक बना सकती हैं। हलका अपारदर्शी मस्कारा आपके चेहरे को और भी आकर्षक बना देगा। भौंहों को सुन्दर बनाने के लिए आइब्रो पेंसिल का प्रयोग करें। काले और भूरे रंग के शेड सभी अवसरों एवं मौसमों में सही रहते हैं और ये सभी पर जमते हैं।

होंठ - लाल या मैजेंटा जैसे शेड दिन के समय भद्दे लगते हैं। हल्के भूरे, टी बेरी, चाकलेटी, काॅपर, कोको आदि शेड्स कामकाजी महिलाओं एवं काॅलेज गर्ल पर खूब फबते हैं। इसके अलावा सभी प्राकृतिक रंग लिपस्टिक में पसंद किये जाते हैं। लिपस्टिक हमेशा ब्रश से ही लगाएं। पहले लिपलाइनर से होंठों की आउटलाइन करें। फिर उसमें लिपस्टिक भरें। फिर टिश्यू पेपर को दोनों होंठों के बीच रख कर दबा दें। इससे लिपस्टिक फैलेगी नहीं।

बिंदी:- चेहरे की सुंदरता में चार-चांद लगाने के लिए अंत में रह जाती है बिंदी। चेहरे की बनावट और अपनी डेªस के रंग के अनुसार बिंदी के रंग आदि का चुनाव करके लगायें। कामकाजी महिलायें अपने कपड़ों से मैच करती हुई बिंदी लगाएं। मैरून बिंदी भी लगा सकती हैं जबकि काॅलेज की लड़कियां ब्लैक कलर की बूंद की आकार की बिंदी में जचती हंै। यही सदाबहार फैशन में है। उनसे भी तरह-तरह के डिजाइन बनाये जा सकते हैं।