ALL HEALTH BEAUTY INTERVIEW
अपने पैरों की सुध लीजिये
April 20, 2019 • Praja Dabral


हमारा शरीर मशीन की भांति ही कार्य करता है। जिस प्रकार सभी कलपुर्जों की देखभाल से ही मशीन सुचारू रूप से काम करती है, उसी प्रकार शरीर के सभी अंगों की नियमित देखभाल से ही शरीर निरोग व स्वस्थ रहता है। साथ ही साथ लंबे समय तक चलने की संभावना बनी रहती है।
शरीर में यूं तो सभी आवश्यक अंग महत्त्वपूर्ण होते हैं किंतु पैर तो पूरे शरीर के भार को ढोते हैं फिर भी हम पैरों की तरफ लापरवाही करते हैं और उनकी अपेक्षित देखभाल नहीं कहते हैं।


अनेक महिलायें तो शरीर की सुंदरता को बढ़ाने के लिए अनेक उपाय करती हैं। नाना प्रकार की सौंदर्य सामग्रियां प्रयोग में लाती हैं किंतु पैरों को पूरी तरह उपेक्षित कर देती हैं जिससे उनकी सुंदरता फीकी पड़ जाती है। यदि कुछ वक्त पैरों की देखभाल में लगायें तो किसी भी जगह आप आकर्षण का केंद्र बन सकती है।


पैरों की नियमित देख-रेख से आपकी खूबसूरती पर चार चांद लग सकते हैं। यूं तो आप ब्यूटी पार्लर में पेडीक्योर करवा कर पेरों की सुंदरता बढ़ा सकती हैं लेकिन यदि समय और धन की बचत करना चाहती हों तो घर में भी यह हो सकता है।


आइये, पैरों की सुंदरता बढ़ाने के कुछ टिप्स बताएं।

  • सर्वप्रथम चौकोर रब में हल्का गुनगुना पानी लेकर साबुन डालें। झाग उत्पन्न होने पर उसमें पैरों को रखें। याद रहे पैर पूरी तरह भीगने चाहिए।
  • कम से कम 20 मिनट तक ऐसा करें। इस समय का सदुपयोग आप पेपर पढ़ कर या हाथ से किया जाने वाले अन्य कार्य करके कर सकती हैं।
  • बीच-बीच में दोनों पैरों को एक दूसरे के ऊपर रख कर रगड़ते रहें।
  • 20 मिनट पश्चात प्यूमिक स्टोन या कड़े बाल वाले ब्रश से एड़ियों को रगड़ें। इसके साथ ही पैरों की भी हल्की मालिश करें।
  • फिर स्वच्छ पानी से अच्छी तरह धोकर नरम तौलिये से पैरों को पोंछें। पैर की उंगली के पोरों को भी अच्छी तरह पोंछें। सूख जाने के बाद क्रेक क्रीम लगायें सरसों का तेल हल्दी मिलाकार लगायें।
  •  पुराने टूथब्रश से नाखूनों की भी सफाई करें। खाली समय में नाखूनों पर नींबू को उलट कर रगड़ें। इससे नाखून मजबूत एवं चमकदार होते हैं।
  • नाखून पर रंगों से मेल खाती बढ़िया क्वालिटी की नेल पालिश लगायें। नेलपालिश उखड़ने लगे तो रिमूवर से नाखून साफ करें।
  • कुछ दिन नाखूनों पर नेल पालिश न लगायें।
  • पैरों की सुध नियमित लें। यदि रोजाना गवारा न हो तो सप्ताह में दो बार अवश्य करें। कुछ दिनों के अंतराल में आपके पैर चेहरे की भांति चमकने लगेंगे। इस प्रकार आप थोड़ी सी सूझ-बूझ समझदारी से पैरों को उपेक्षित होने से बचा लेंगी।